लोंग Thor Love and Thunder को इतना नफरत क्यों कर रहे हैं जाने पूरी वजह

1
5672
thot love and thunder

Thor love and Thander को लेकर मार्बल फैन की बहुत सारी उम्मीद थी जो कहीं ना कहीं एक पर्टिकुलर कम्युनिटी जो Marvel को दिलो जान से follow करते हैं
Marvel का कतरा कतरा जिनको पता हैं, मार्बल के हर एक कैरेक्टर के नाम जिनको पता है। मार्बल की मूवीस बनाने का तरीका जिमको पता है। उनके लिए यह Film एक बहुत बड़ा डिसएप्वाइंटमेंट थी। जी हां उनके ही लिए


अब देखो जहाँ तक मैंने नोटिस किया है। मार्बल को देखने वाले चार तरह की ऑडियंस हैं एक वह जो कट्टर Fans हैं और मार्बल के हर कॉमिक बुक का नॉलेज इनके पास होता है। दूसरे वो जिनके पास कॉमिक वाला नॉलेज बिल्कुल भी नहीं है बट मार्वेल की फिल्म और सीरीज कभी भी मिस नहीं करते। तीसरे वह जिनको मार्बल के टाइम लाइन के बारे में कुछ भी नहीं पता। फेस वन टू थ्री फोर के बारे में नहीं पता। बट कभी भी रेंडमली मार्बल की मूवीस देख सकते हैं क्योंकि वह मार्बल के बस सो कॉल्ड फॉलोवर्स है। या सुपर हीरो film देखना पसंद है और लास्ट में चौथे जिनको बस Film देखो एंटरटेनमेंट करो और भूल जाओ, दुनिया गई तेल लेने और इस चौकी कैटेगरी में ऑलमोस्ट 67% लोग आते हैं

तो अगर लास्ट के दोनों कैटेगरी में आप आते हो तो इस मूवी से आपको घंटा फर्क नहीं पड़ने वाला। क्योंकि देखो इस मूवी में वह एंटरटेनमेंट तो है जो पब्लिक को खुश कर सके, जी हां मैं झूठ नहीं बोल रहा हूं। कॉमेडी एक्शन, ड्रामा प्यार, मोहब्बत, पागलपन स्टनिंग, विजुअल इफैक्ट्स ये सब कुछ है और बहुत सारी पब्लिक इस फिल्म से खुश है भी

But फिर भी कही न कहीं जिस टॉपिक को इस मूवी ने छेड़ा था गॉड गुजर जैसे टॉपिक को आई मीन एक ऐसा बिलन इसमें Introduce हुआ है जो मार्बल का One Of the creepiest विलन हो सकता था यह कॉमिक बुक में है भी फिर उसका प्रेजेंटेशन इतना ढीला क्यों
अब देखो जहाँ हर कोई इस फिल्म के बारे में नेगेटिव पॉइंट्स पर ही बात कर रहा है हम जरा ऐंगल को चेंज करके मूवी कैसे बेटर हो सकती थी उसके बारे में बात करते हैं हालांकि उससे कोई फर्क तो नहीं पड़ने वाला क्योंकि मूवी तो आ चुकी है But अगर दिल को शांति चाहिए तो जो मैं बोलने वाला हू उसको बस इमेजिन करो आपको आपके वर्जन की मूवी देखने को मिल जाएगी या Thor Love and Thander का वो वर्जन देखने को मिल जाएगा
जिसकी होप मे आप थियेटर मे गए थे

तो स्टार्टिंग से बात करते हैं जब गोड की स्टोरी अनफोल्ड हुई कि कैसे उसको नैक्रोसवर्ड मिली तो वहां नल की एंट्री दिखानी चाहिए थी नल नहीं Knull के एन यु डबल एल नल और उस देवता के साथ उसकी 2 मिनट की फाइट सीक्वेंस जिसके बाद नल जब हार जाता है तो नैक्रोसवर्ड पास के ही किसी दूसरे जीवित एंटिटी को पोजेस करती हैं जो कि दिखाया गया है But नल और फाइट सीक्वेंस इसमें जरूरी था

knull the king in black

जिसमें लोगों का कांसेप्ट क्लियर हो जाता दूसरा गोड जो इस फिल्म का मेन विलन है उसका रेक्टर को इस film में तो बस ऐसे दिखाया गया है जैसे उसका कोई 1 स्टैंडर्ड कैमियो हो तो अगर इस फिल्म में गोड की प्रॉपर बैकस्टोरी गोड को नैक्रोसवर्ड मिलने के बाद कम से कम तीन-चार गॉड को मारते हुए दिखाते तो गोड का कैरेक्टर और जादा विलन लगता, तीसरा कॉमेडी जो बहुत ज्यादा थी एक बंदा गॉड को मार रहा है तो कॉमेडी बच्चे उठा कर ले जा रहा है तू कॉमेडी अरे उस सिफ का हाथ काटा फिर भी कॉमेडी हो रही थी तो अगर इस फिल्म को दो हिस्सों में बांट देते यानी फस्ट हाफ में कॉमेडी और सैकेंड हाफ में पूरा डार्क या सिर्फ लाइट moments पर ही कॉमेडी करी जाती तो ज्यादा अच्छा होता

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here